Gorakhpur News: बच्चे के गले में फंसे झुमके को डॉक्टरों ने निकाला बाहर, गंभीर हालत में आया था अस्पताल

 बच्चे के गले में फंसे झुमके को डॉक्टरों ने निकाला बाहर, गंभीर हालत में आया था अस्पताल

गोरखपुर। बांसगांव की रहने वाली डेढ़ वर्षीय बच्ची गले में अज्ञात कारणों से जाकर झुमका फस गया। तीन दिन बच्ची जब भोजन नहीं कर पाई तो परिजन लेकर उसे शाही ग्लोबल हॉस्पिटल गोरखपुर पहुंचे। जहां एक्स-रे के जरिए पता चला कि बच्ची के गले में झुमका फंसा हुआ है। डॉक्टरों की टीम ने अथक परिश्रम करके झुमका को बाहर निकाला। तब जाकर बच्ची के स्वजन राहत की सांस ले सके।



     डेढ़ वर्षीय रिद्धि नामक बच्ची 2 दिन से भोजन पानी नहीं ले पा रही थी। जिससे परिवार के लोग परेशान थे। वह बच्ची को लेकर शाही ग्लोबल हॉस्पिटल गोरखपुर पहुंचे। जहां एक्स-रे के जरिए पता चला कि बच्ची के भोजन नली में कुछ फंसा हुआ है। लेकिन वह टेढ़ा-मेढ़ा था। जिसे निकालना बेहद कठिन काम था।

 डॉ केतन अग्रवाल, डॉ शिव शंकर शाही, डॉक्टर भूपेंद्र प्रताप सिंह की टीम बच्ची के गले में फंसे पदार्थ को निकालने के लिए करीब 2 घंटे अथक परिश्रम किए। सामान्य औजार से यह नहीं निकाला जा सकता था। पथरी निकालने में प्रयोग होने वाले औजार का प्रयोग किया गया तब जाकर किसी तरह बच्ची के गले में फंसा पदार्थ बाहर आया। जो झुमका था। जिसे देखकर डॉक्टर और बच्ची के परिजन हैरान हो गए। बच्ची की भोजन नली में झुमका जाकर किस तरह फंसा यह बात किसी के समझ में नहीं आ रही है। डॉक्टरों ने बताया कि बच्ची को इन्फेक्शन काफी फैला हुआ था। गले में फंसने की वजह से फेफड़ों में भी इन्फेक्शन जा रहा था। लेकिन अब बच्ची की हालत में काफी सुधार है।

 डॉक्टरों की टीम की काफी प्रशंसा हो रही है। लोगों का कहना था कि जिस तरह का जटिल मामला था उसे उलझा कर टीम ने साबित कर दिया की डॉक्टर भगवान का दूसरा रूप होते हैं।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.
विज्ञापन के लिए संपर्क करें - 9415331761