आरओ, एआरओ प्रारंभिक परीक्षा-2023 को रद्द कराने की मांग पर अड़े छात्र

 आरओ, एआरओ प्रारंभिक परीक्षा-2023 को रद्द कराने की मांग पर अड़े छात्र

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंक गांधी का मिला समर्थन

प्रयागराज,। उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग की समीक्षा अधिकारी (आरओ)/ सहायक समीक्षा अधिकारी (एआरओ) प्रारंभिक परीक्षा-2023 में पेपर लीक का विवाद दिनोंदिन तूल पकड़ता जा रहा है। पिछले कई दिनों से परीक्षा रद्द कराने की मांग को लेकर धरना-प्रदर्शन कर रहे प्रतियोगी छात्रों का आंदोलन शुक्रवार को और तीव्र हो गया। सुबह साढ़े दस बजे के करीब हजारों छात्र आयोग दफ्तर के सामने जुटे और रात तक प्रदर्शन, नारेबाजी चलती रही। आक्रोशित युवाओं ने आयोग के सभी गेट बंद कराकर अध्यक्ष संजय श्रीनेत्र समेत आयोग के सदस्यों तथा सभी अधिकारियों-कर्मचारियों को बंधक बनने पर मजबूर कर दिया। छात्र परीक्षा निरस्त करने और पुनर्परीक्षा कराने की मांग पर अड़े हैं। उधर, पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंक गांधी ने एक्स पर ट्वीट कर प्रतियोगी छात्रों के आंदोलन को समर्थन दिया है। माहौल को देखते हुए आयोग पर भारी संख्या में पुलिस और आरएफ के जवान तैनात रहे। देर रात डीएम, सीपी आयोग पहुंचे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.
विज्ञापन के लिए संपर्क करें - 9415331761